लार (Saliva): शरीर में एक अद्वितीय रस के 7 महत्व

0
17
Saliva

प्रस्तावना

मुख में मौजूद एक सामान्य रूप से अनदेखा किया जाने वाला पदार्थ है – लार, जिसे हिंदी में ‘थूक’ (Saliva) भी कहा जाता है। यह एक अद्वितीय रस है जो हमारे शरीर में कई महत्वपूर्ण कार्यों का संचार करता है। इस लेख में, हम लार के महत्व, इसके कार्य और भोजन पचान में इसकी भूमिका के बारे में चर्चा करेंगे, साथ ही लार से जुड़े मिथकों और तथ्यों की खोज करेंगे।

लार (Saliva) क्या है

लार (Saliva), जिसे हम थूक (Saliva) भी कहते हैं, हमारे मुख में उत्पन्न होने वाला एक द्रव है। इसमें पानी, एंजाइम्स, एंटीबॉडीज, और अन्य महत्वपूर्ण तत्व होते हैं, जो हमारे शरीर के लिए आवश्यक होते हैं। लार का मुखरोग में सफाई करने से लेकर भोजन को पाचन में भी मदद करता है। इसमें मौजूद एंजाइम्स भोजन को छोटे छोटे कणों में टूटने में मदद करते हैं, जिससे भोजन को शरीर में सोखा और पाचा जा सकता है।

लार (Saliva) का महत्व

लार, जिसे हम आमतौर पर थूक (Saliva) कहते हैं, वास्तव में हमारे शरीर के लिए एक अद्वितीय रस का महत्वपूर्ण स्रोत है। इसमें पानी, एंजाइम्स, एंटीबॉडीज, और अन्य तत्व होते हैं जो हमारे स्वास्थ्य को बनाए रखने में सक्रिय भूमिका निभाते हैं। लार का मुखरोग की सफाई में भी अहम योगदान है, जिससे मुख में बैक्टीरिया और कीटाणुओं का नाश होता है और संभावना होती है कि इससे मुख संक्रमणों से बचा जा सके।

इसके अलावा, लार में मौजूद एंजाइम्स भोजन पचान की प्रक्रिया में सहारा करते हैं, जो हमारे शरीर को आवश्यक पोषण प्रदान करने के लिए भोजन को छोटे छोटे कणों में टूटने में सहायक होते हैं। इससे हमारा पाचन तंत्र सुचारू रूप से कार्य करता है और हम स्वस्थ रहते हैं।

लार (Saliva) की भूमिका और कार्य

1. भोजन को बिगाड़ना और गुलाना: लार का सबसे महत्वपूर्ण कार्य है भोजन को पाचनशील बनाना। यह खाद्य पदार्थों को गुलाने और बिगाड़ने में सहारा करता है, जिससे वे शरीर में आसानी से सोखे और पचाए जा सकते हैं। लार में मौजूद एंजाइम्स और अन्य तत्व खाद्य पदार्थों को छोटे छोटे कणों में ब्रेकडाउन करके उन्हें शारीरिक प्रक्रियाओं के लिए सुलगने में मदद करते हैं। इससे खाद्य पदार्थों का संगठन होकर उन्हें ऊर्जा मिलती है और उन्हें शरीर के विभिन्न भागों में पहुंचाने में मदद होती है।

2. मुखरोग की सफाई: लार बैक्टीरिया और अन्य कीटाणुओं को मुक्त करने में सहायक होता है और मुखरोग को स्वच्छ रखने में मदद करता है। इससे मुख स्वच्छ रहता है और मुखगंध भी बनाए रखता है। लार के मौजूद एंटीबॉडीज बैक्टीरिया और इंफेक्शन से लड़ने में मदद कर सकते हैं, जो मुखरोग को स्वस्थ रखने में महत्वपूर्ण हैं।

3. ताजगी का संरक्षण: लार मुख में ताजगी को बनाए रखने में मदद करता है, जिससे मुख संदर्भ में रहता है और बोलचाल में भी सुधार होता है। यह ताजगी को संरक्षित रखने से मुखरोग की बीमारियों से बचाव हो सकता है और बढ़ती उम्र में भी इसका प्रभाव कम होता है।

4. दाँतों की स्वच्छता: लार का स्राव दाँतों को स्वच्छ रखने में भी सहायक होता है और मुख में कैरी बनने से बचाता है। इससे दाँतों के बीच की बैक्टीरिया बनाए रहने से रोका जा सकता है, जिससे मुख स्वस्थ रहता है और दाँतों की स्वच्छता बनी रहती है।

5. भोजन की स्वादिष्टता: लार, खाद्य पदार्थों के साथ मिलकर, उन्हें स्वादिष्ट बनाने में मदद करता है। यह भोजन को स्वादपूर्ण बनाने में एक महत्वपूर्ण योगदान देता है और भोजन का आनंद लेने में मदद करता है। लार की विशेष रसीलत भोजन को रुचिकर बना सकती है, जिससे भोजन का सेवन अधिक आनंददायक होता है।

6. लार (Saliva) और भोजन पचान: भोजन पचान में लार का बहुत बड़ा योगदान होता है। जब हम खाद्य पदार्थों को चबाते हैं, तो मुख में मिलने वाले लार से शुरू होता है। इसमें मौजूद एंजाइम्स भोजन को बिगाड़ने में मदद करते हैं और उसे छोटे छोटे कणों में टूट जाने में मदद करते हैं। इसके बाद, यह भोजन को निर्गत करने के लिए उत्तराधिकारी अंगों में पहुँचता है।

7. लार (Saliva) में मौजूद एंजाइम्स के अन्य कार्य:

  • प्रोटीन को छोटे छोटे कणों में टूटने में मदद करना
  • विभिन्न पोषक तत्वों को सोखना
  • कार्बोहाइड्रेट्स को शुगर में बदलना

लार, हमारे शरीर के लिए एक संगीतमय रस की भूमिका निभाता है, जो हमें मुखरोग से लेकर भोजन पचान तक कई कार्यों में सहायक है। इसका सही मात्रा में सेवन करना हमारे स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है और इसे अनदेखा न करके इसके महत्व को समझना हमारे जीवन के विभिन्न पहलुओं को सुधार सकता है।

लार (Saliva) के मिथक और तथ्य

मिथक: लार (Saliva) सिर्फ मुखरोग के लिए है।
तथ्य: लार न केवल मुखरोग के लिए है, बल्कि यह भोजन पचान में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

मिथक: ज्यादा थूक (Saliva) करना अच्छा नहीं है।
तथ्य: सामान्य मात्रा में लार बनाना स्वस्थ है, लेकिन अत्यधिक थूक (Saliva) करना स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकता है।

मिथक: लार (Saliva)का सेवन बीमारियों को फैलाता है।
तथ्य: सामान्यत: लार से बीमारियों का प्रसार नहीं होता, बल्कि यह बल्कुल स्वस्थ्यप्रद होता है।

समापन

लार (Saliva), हमें इस अद्वितीय शरीरिक रस के महत्वपूर्णीय कार्यों की दिशा में मार्गदर्शन करने का एक अवसर प्रदान करता है। लार का महत्व, इसकी भूमिका, और कार्यों के परिपर्ण विवेचन ने हमें यह सिखाया है कि यह हमारे स्वास्थ्य के लिए न केवल मुखरोग में महत्वपूर्ण है, बल्कि भोजन पचान और मुख स्वच्छता में भी अद्वितीय योगदान प्रदान करता है।

इसके अलावा, हमने लार के साथ जुड़े मिथकों को खुदाई की और सत्यों को प्रमोट किया है। एक स्वस्थ जीवनशैली के लिए उचित लार का सही मात्रा में सेवन करना महत्वपूर्ण है, और हमें इसे सीधे से जोड़कर इसके साथ संपर्क बनाए रखने की आवश्यकता है।

समापन के साथ, हम यहां से जानकारी लेते हैं कि लार का यह अद्वितीय रस हमारे शरीर के साथ हमेशा रहता है, हमें स्वस्थ और जीवंत रखने में मदद करता है, चाहे हम इसे ध्यान दें या न दें। सबसे अच्छा होगा कि हम इसे एक नए दृष्टिकोण से देखें और इस महत्वपूर्ण रस के योगदान को सराहें, ताकि हम इसे सही रूप से महसूस कर सकें।

Want to read more about SALIVA? Click here.

Want more from ASHNA News? Click here.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here